Good Morning

Best Good morning Sms in Hindi | 20 Sweet N Lovely Hindi Greetings Sms

नए दिन की नई सुबह का नया-नया अंदाज़;
सारे दिन की झोली में छुपे हुए हैं कुछ राज़;
तुझको मुझको हर किसी को मिलना है कुछ आज;
तो आओ यारों ख़ुशी ख़ुशी कर लें दिन का आग़ाज़।
सवेरे सवेरे हो खुशियों का मेला;
ना लोगों की प्रवाह, ना दुनिया का झमेला;
पंछियों का संगीत हो और मौसम अलबेला;
मुबारक हो आपको ये खूबसूरत सवेरा।
शुभ दिवस।
ख़्वाबों के जहाँ से अब लौट भी आओ;
हुई है सुबह अब जाग भी जाओ;
चाँद-तारों को अब कह भी दो 'बाय';
और प्यारी सी सुबह को कहो, 'हाय'।
गुड मोर्निंग।
रात आती है सितारे लेकर;
नींद आती है सपने लेकर;
काश आपकी हर सुबह आये;
बहुत सारी खुशियाँ लेकर।
सुप्रभात।
सूरज की पहली किरण ख़ुशी दे आपको;
दूसरी किरण प्यारी सी हंसी दे आपको;
तीसरी किरण अच्छा स्वास्थ और तरक्की दे आपको;
बस अब और गर्मी नहीं, लगेगी आपको!
शुभ दिवस!
रात ने चादर समेट ली है;
सूरज ने किरणें बिखेर दी है;
उठो और शुक्रिया करो भगवान का;
जिसने एक और सुबह दी है।
शुभ दिवस। 
लबों पे मुस्कान, आँखों में ख़ुशी;
गम का कहीं नाम ना हो;
हर दिन लाये आपके जीवन में इतनी खुशियाँ;
जिसके ढलने की कोई शाम ना हो।
शुभ दिवस।
सुबह सुबह एक पैगाम देना है;
आपकी सुबह को पहला सलाम देना है;
गुजरे सारे दिन आपके खुशियों में;
आपकी सुबह को एक खूबसूरत नाम देना है।
शुभ दिवस दोस्तो।
थकानपुर से फ्रेशनगर तक आने वाली "निंदिया एक्सप्रेस" प्रभात नगर पहुँच चुकी है।
यात्रियों से अनुरोध है कि वो अपने हसीन सपनों से जाग जायें।
शुभ दिवस।
सितारों के बिस्तर से सूरज को जगाया है;
चाँद को रात का मेहमान बनाया है;
कोई इंतज़ार कर रहा है मेरे मैसेज का;
ठंडी हवाओं ने मुझे अभी-अभी बताया है!
शुभ दिवस!
हर सुबह की धूप कुछ याद दिलाती है;
हर महकती खुशबू एक जादू जगाती है;
जिंदगी कितनी भी ब्यस्त क्यों ना हो;
निगाहों पर सुबह-सुबह अपनों की याद आ ही जाती है।
शुभ दिवस।
पानी की बूंदे फूलों को भिगा रही हैं;
ठंडी लहरे एक ताज़गी जगा रही हैं;
हो जायें आप भी इनमें शामिल;
एक प्यारी सी सुबह आपको जगा रही है।
शुभ दिवस।
खुदा करे हर रात चाँद बनके आये;
दिन का उजाला शान बनके आये;
कभी दूर न हो आपके चेहरे से हंसी;
नया दिन ऐसा मेहमान बनके आये।
शुभ दिवस।
प्यार सी प्यारी;
दुलार से दुलारी;
हर सुबह हो तुम्हारी।
शुभ दिन।
सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है;
आँख खुलते ही आपकी याद होती है;
खुशियों के फूल हो आपके आँचल में;
ये मेरे होंठो पर पहली फ़रियाद होती है।
शुभ दिवस।
चाहता तो हूँ कि हर रोज़ की सुबह तुझे अनमोल खज़ाना भेजूं;
पर मेरे दामन में दुआओं की सिवा कुछ भी नहीं।
शुभ दिवस।