stop terrorism sms, quotes, messages in hindi

By | December 30, 2011

जहाँ पर शाम होते ही, उजाले डूब जाते हैं
चरागों की तरह अपना, वहां हम दिल जलाते हैं
ज़हां को मोजिज़ा अब ये, दिखा दे ए मेरे मौला
करें वो फूल की खेती, बशर जो बम बनाते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *