best hindi sms

May 27, 2012 Admin 0
एक कंपनी के मैनेजर ने अत्यंत शिष्ट स्वर में एक कर्मचारी से कहा – क्षमा करना सुरेश, मैं तुम्हें सोते से कदापि न जगाता, अगर यह बात अत्यन्त महत्वपूर्ण न होती। तुम्हें नौकरी से बर्खास्त किया जाता है ....
एक प्रसिध्द लेखक ने एक बार अपने भाषण में कहा – मेरा बचपन बहुत ही गरीबी में बीता । हम लोग इतने गरीब थे कि घर की सुरक्षा के लिए एक कुत्ता भी नहीं पाल सकते थे। इसलिए रात के समय जब भी कोई आहट होती हमें स्वयं ही भौंकना पड़ता था ….. ।
एक सरकारी कार्यालय में अकाउंटेंट के पद के लिए एक उम्मीदवार का इंटरव्यू लिया जा रहा था।
परीक्षक ने पूछा – 2 और 2 कितने होते हैं ?
सवाल सुनकर उम्मीदवार उठा और आहिस्ते से कमरे का दरवाजा खोलकर बाहर झांका। वहां कोई नहीं था। फिर उसने झुककर मेज के नीचे झांका। वहां भी कोई नहीं था। फिर सारे खिड़की – दरवाजे बन्द कर परीक्षक के कान में फुसफुसाकर बोला – कितने होते हैं इसको मारिए गोली..... आप बताइये सर, आप कितने करवाना चाहते हैं ?
उसे बिना और कोई सवाल पूछे नौकरी पर रख लिया गया ।
दो सगे भाई एक ही स्कूल और एक ही कक्षा में पढ़ते थे। उनके मौखिक इम्तहान हो रहे थे। जब दोनों शाम को घर आए तो मां ने पूछा – राजू, आज तुझसे मास्टर जी ने क्या पूछा ?
राजू ने कहा – उन्होंने मुझे पिता का नाम लिखने को कहा । मैंने लिखा श्यामलाल।
मां ने संजू से पूछा – और तुझसे क्या पूछा ?
संजू ने कहा – मुझसे भी पिता का नाम लिखने को कहा । मैंने  लिखा रामलाल ।
मां – पर तूने अपने चाचा का नाम क्यों  लिखा । पिता का क्यों नहीं ?
संजू – राजू ने कहा था कि एक जैसे उत्तर मत लिखना  वरना मास्टरजी  समझेंगे कि तूने मेरी नकल की है 

best hindi sms

नेवी के एक रंगरूट की रायफल कहीं खो गई। उससे उसकी कीमत मांगी गई तो उसने दलील दी – यदि मैं किसी जीप को चला रहा होता और दुर्योग से वह चोरी हो जाती तो क्या मुझे उसकी भी कीमत चुकानी पड़ती ?
उसे बताया गया कि उसे हर उस वस्तु की कीमत चुकानी पड़ेगी जिसे वह गुम करेगा।
यह सुनकर वह बोला – अब मेरी समझ में आया कि डूबते हुए जहाज के साथ कप्तान क्यों डूब जाता है ……. ।
एक नवोदित फिल्म अभिनेत्री एक फिल्म निर्माता द्वारा उसके साथ किए गए दुर्व्यवहार की शिकायत लेकर पुलिस थाने पहुंची। उसने रोते-रोते पुलिस इंस्पेक्टर को बताया – अमुक निर्माता बहुत नीच आदमी है। कल रात उसने मुझे अपने घर बुलाया और मेरा शारीरिक शोषण किया।
पुलिस इंस्पेक्टर ने बीच में ही टोका – तो आपने उसी वक्त शोर क्यों नहीं मचाया ?
अभिनेत्री ने सुबकते हुए कहा – उस वक्त मुझे पता नहीं था कि वह इतना नीच आदमी है।
पुलिस इंस्पेक्टर ने आगे पूछा – तो फिर यह आपको कब पता चला ?
- यह तो मुझे तब पता चला जब सुबह उसने बिना कोई कोई साइनिंग एमाउंट दिए मुझे चलता कर दिया …….
एक दिन दो पुराने दोस्त गधे बाजार में मिले। एक गधा बोला – यार तुम तो बहुत कमजोर हो गए हो। क्या तुम्हारा मालिक तुम्हें ठीक से खाने पीने को नहीं देता ?
दूसरे गधे ने ठंडी सांस भरकर कहा – हां दोस्त, खाने पीने को तो ठीक से मिलता ही नहीं है साथ ही काम भी बहुत करवाता है। मेरा मालिक सचमुच बहुत खराब आदमी है।
पहले गधे ने कहा – तो फिर ऐसे मालिक को तुम छोड़ क्यों नहीं देते ? किसी दिन मौका देखकर भाग जाओ न ?
दूसरा गधा – मैं भाग नहीं सकता ।
पहला गधा – पर क्यों ?
दूसरा गधा – मेरे मालिक की एक बहुत ही खूबसूरत बेटी है। जब भी वह उस पर नाराज होता है तो मेरी तरफ इशारा करके उससे कहता है कि ”देखना, एक दिन तेरी शादी मैं इस गधे से कर दूंगा”..... अब यार, मैं उस दिन का इंतजार कर रहा हूं

best hindi sms

एक डॉक्टर साहब एक पार्टी में गए । अपने बीच शहर के एक प्रतिष्ठित डॉक्टर को पाकर लोगों ने उन्हें घेर लिया। किसी को जुकाम था तो किसी के पेट में गैस। सभी मुफ्त की राय लेने के चक्कर में थे। शिष्टाचारवश डॉक्टर साहब किसी को मना नहीं कर पा रहे थे।
उसी पार्टी में शहर के एक नामी वकील भी आए हुए थे। मौका मिलते ही डॉक्टर साहब वकील साहब के पास पहुंचे और उन्हें एक ओर ले जाकर बोले – यार ! मैं तो परेशान हो गया हूं। सभी फ्री में इलाज कराने के चक्कर में हैं। तुम्हें भी ऐसे लोग मिलते हैं क्या ?
वकील साहब – बहुत मिलते हैं ।
डॉक्टर साहब – तो फिर उनसे कैसे निपटते हो ?
वकील साहब – बिलकुल सीधा तरीका है । मैं उन्हें सलाह देता हूं जैसा कि वो चाहते हैं। बाद में उनके घर बिल भिजवा देता हूं।
यह बात डॉक्टर साहब को कुछ जम गई । अगले रोज उन्होंने भी पार्टी में मिले कुछ लोगों के नाम बिल बनाए और उन्हें भिजवाने ही वाले थे कि तभी उनका नौकर अन्दर आया और बोला – साहब, कोई आपसे मिलना चाहता है ।
डॉक्टर साहब – कौन है ?
नौकर – वकील साहब का चपरासी है । कहता है कल रात पार्टी में आपने वकील साहब से जो राय ली थी उसका बिल लाया है ...

best hindi sms

गांव की एक लड़की ने अपनी मां की इच्छा के विपरीत उच्च शिक्षा के लिए शहर के कॉलेज में दाखिला लिया। चलते वक्त उसकी मां ने उसे चेतावनी दी – बेटी, अकेली रहने जा तो रही हो पर जरा संभल कर रहना। अगर तुम्हारे कमरे में किसी मर्द की छाया भी पड़ी तो मुझे मर गई ही समझना।
कुछ दिन बाद मां ने बेटी के हॉस्टल फोन लगाया तो जवाब मिला कि वह कमरे में नहीं है। कुछ देर बाद उसने फिर फोन लगाया पर बेटी तब भी कमरे पर नहीं थी। मां को बहुत चिंता हुई । पता नहीं कहां-कहां घूम रही है। आखिरकार रात को एक बजे बेटी से फोन पर बात हुई । मां ने डांटते हुए पूछा – कहां गई थी इतनी देर तक ? आखिर पड़ गई न किसी लड़के के चक्कर में …..?
बेटी ने जवाब दिया – तुम चिंता न करो मां ! मैंने उसे अपने कमरे में नहीं आने दिया। बल्कि मैं ही उसके कमरे पर गई थी ताकि उसकी मां मर जाए... मेरी नहीं....
~*~ Umar Bhar Jis Phool Ki Main Ne Parwarish Ki ~*~
~*~ Jab Khushbuu K Qaabil Hua Tou Ghairo’n Ko De Dia ~*~

sms in hindi jokes

May 27, 2012 Admin 0

sms in hindi jokes

कॉमर्स के प्रोफेसर ने अपने विद्यार्थी से पूछा – “व्यवसाय शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त करने का सबसे भरोसेमंद स्रोत कौन सा है ? ”
विद्यार्थी – “बीबी के पिताजी यानी ससुर साहब !”
एक सुबह बॉस अपने नियत समय से पहले ही ऑफिस पहुंच गए तो पाया कि मैनेजर उनकी सेक्रेटरी का चुम्बन ले रहा है।
बॉस ने उसे डांटते हुए कहा – क्या मैं तुम्हें यह सब करने की तनख्वाह देता हूं ?
मैनेजर ने जवाब दिया – नहीं सर, यह सब तो मैं फ्री ऑफ चार्ज करता हूं....
नए-नए डॉक्टर ने अपने जीवन का पहला ऑपरेशन किया। ऑपरेशन के थोड़ी देर बाद ही मरीज मर गया ।
डॉक्टर ने दीवार पर टंगी भगवान की तस्वीर की ओर हाथ जोड़कर सिर झुकाते हुए पूरी श्रध्दा से कहा – हे प्रभु, मेरी ओर से यह पहली भेंट स्वीकार कीजिए...
जंग के दौरान जब एक सीमावर्ती गांव में दुश्मन की फौज की एक टुकड़ी घुसी तो गांव की जवान लड़कियां उनसे बचने के लिए गांव के बाहर एक जगह छुपने के लिए भागीं। एक बूढ़ी औरत भी उनके साथ भागी।
एक लड़की ने पूछा – अम्मा, खतरा तो हम जवान लड़कियों को है। तुम क्यों भाग रही हो ?
बुढ़िया बोली – तुमने देखा नहीं क्या ? उन फौजियों के साथ एक बूढ़ा अफसर भी तो है ...
प्रेमी : मैं तुम्हारी चिट्ठियों पर लगे डाकटिकटों को चूमना नहीं भूलता क्योंकि उनमें तुम्हारे होंठों का स्पर्श शामिल रहता है।
प्रेमिका : ओह, लेकिन डाकटिकटों को चिपकाने का काम तो मेरी बूढ़ी नौकरानी किया करती है ...
टीचर – बेटा बंटी, बताओ एक को एक से कैसे जोड़ें कि तीन हो जाएं ?
बंटी – उनकी शादी करा दीजिए...
संता साइकिल पर बाजार जा रहा था। रास्ते में उसने एक लड़की को टक्कर मार दी।
लड़की चिल्लाई – घण्टी नहीं मार सकता था क्या ?
संता रुआंसा होकर बोला – पूरी साइकिल तो मार दी, अब घण्टी क्या अलग से मारूं ?
एक चोर एक घर में चोरी करने गया। तिजोरी पर लिखा था – तिजोरी को तोड़ने की जरूरत नहीं है। 123 नंबर लंगाकर सामने वाला लाल बटन दबाओ, तिजोरी खुल जाएगी।
जैसे ही चोर ने बटन दबाया, अलार्म बजने लगा और पुलिस आ गई।
जाते-जाते चोर ने घर के मालिक से कहा – आज मेरा इंसानियत से विश्वास उठ गया है...
यदि आप अपने विवाहित जीवन को सुखी देखना चाहते हैं तो आपके लिए सलाह है कि -
जब भी आप गलत हों – अपनी गलती चुपचाप मान लें । जब भी आप सही हों – तो कृपया चुप रहें । 
तीन कंजूस दोस्त एक रोज प्रवचन सुनने के लिए गए। प्रवचनकर्ता संत ने प्रवचनों के बाद किसी सत्कार्य के लिए सभी से चंदा देने के लिए पुरजोर अपील करते हुए कहा कि हरेक कुछ न कुछ जरूर दे।
जैसे-जैसे चंदे वाला थाल उन कंजूसों के नजदीक आता गया वे बेचैन हो उठे। यहां तक कि उनमें से एक बेहोश हो गया और बाकी दो उसे उठाकर बाहर ले गए।
- देहात से आए एक आदमी को अंग्रेजी के सिर्फ दो शब्द ही आते थे फिर भी उसने मुंबई जाकर लाखों रुपए कमाए।
- अच्छा ! क्या थे वे दो शब्द ?
- हैण्ड्स अप !

sms in hindi jokes

एक युवक एक पुलिसवाले के साथ मारपीट, हाथापाई करने के जुर्म में अदालत में पेश किया गया।
जज – क्या हुआ था ?
युवक – जनाब, मैं टेलीफोन बूथ में था और एकदम शान्तिपूर्ण ढंग से अपनी गर्लफ्रेन्ड रीना से बातें कर रहा था। तभी ये सांड जैसा पुलिसिया वहां पहुंच गया और न जाने इसे फोन करने की ऐसी क्या जल्दी थी कि इसने मेरी बांह पकड़कर मुझे बाहर खींचा और सड़क पर धक्का दे दिया।

जज – तो इसलिए तुम आपे से बाहर हो गए और तुमने इसके साथ हाथापाई की।
युवक – जी जनाब ।
जज – ये तो सचमुच इस पुलिसवाले की बहुत ज्यादती है। जब तुम पहले से बूथ में मौजूद थे तो ……
युवक – इसने और भी ज्यादती की जनाब ।
जज – अच्छा ? और भी ज्यादती की ?
युवक – जी । फिर इसने रीना की भी बांह पकड़कर उसे बाहर खींचा और उसे भी सड़क पर धक्का दे दिया 
एक अंग्रेज सिपाही, जिसकी बीबी बहुत खूबसूरत थी, को अचानक लड़ाई के मैदान से बुलावा आ गया। उसकी गैरमौजूदगी में उसकी बीबी कहीं किसी और से आंखे चार न कर बैठे इस डर से उसने अपनी बीबी को एक कमरे में बन्द किया और चाबी अपने एक विश्वासपात्र मित्र को देकर कहा – मैं युध्द में भाग लेने जा रहा हूं। यदि मैं दस दिनों तक नहीं लौटूं तो तुम इस चाबी से ताला खोलकर उसे आजाद कर देना ।
इतना कहकर वह चल दिया।
अभी वह थोड़ी ही दूर पहुंचा था कि उसने देखा उसका मित्र घोड़े पर सरपट दौड़ता हुआ उसे आवाज देता हुआ चला आ रहा है।
मित्र पास आते ही चिल्लाया – धोखेबाज ! तू मुझे गलत चाबी देकर जा रहा है। इससे तो ताला खुल ही नहीं रहा...