Holi Poems in Hindi

By | March 24, 2013
रंग की फुहार है, गीत की बहार है
बॉंटता जो प्यार है, होली का त्यौहार है
धूम ही मचायेंगे, होली यूं मनायेंगे
यारों की टोली में, गॉंव की होली में
हाथों में रंग लिये, पिचकारी संग लिये
झूमझूम गायेंगे, होली यूं मनायेंगे
गॉंव की जो गोरियॉं, भाभी और छोरियां
देख रंग हाथों में, घुस गई अहातों में
दरवज्जा तुडवायेंगे, होली यूं मनायेंगे
रंग लगा गालों में, भर अबीर बालों में
बीती बात भूल गये, हम गले से झूल रहे
भेद सब मिटायेंगे, होली यूं मनायेंगे
पंहुचे नदी के घाट पर, भंगिया को बॉंट कर
छान कर डटाई है, मस्ती खूब छाई है
गीत गुनगुनायेंगे, होली यूं मनायेंगे
कधे पर शर्ट टॉंग, धर के विचित्र स्वांग
होंठों पर गीत फाग, ढपली पर बजे राग
तुमको नचवायेंगे, होली यूं मनायेंगे
बाटी और दाल है, चूरमा कमाल है
पत्तों की थाली है, गंध भी मतवाली है
डट के खूब खायेंगे, होली यूं मनायेंगे
रंग की फुहार है, गीत की बहार है
बॉंटता जो प्यार है, होली का त्यौहार है
धूम ही मचायेंगे, होली यूं मनायेंगे 
बसंत में हर कली मुस्कुराई,
फागुन की मस्ती चंहुओर है छाई,
मदभरा रंगीं नजारा हर कहीं नजर आता है,
सुनहरा रंग फिजाओं में पसर जाता है,
चंग की ढाप चौक-चौराहों में गूंज रही है,
फागणियों को फाग गाने की सूझ रही है,
लोग-लुगाई होली की मस्ती में सराबोर हैं,
हर तरफ होली आई रे होली आई रे का शोर है।
पिचकारी
ऐसी मारत रंग भरी पिचकारी,
जिसकी मार लगे है प्यारी,
ऐसी छूटत रंग भरी पिचकारी,
देत मजा, मस्ती अति भारी,
जब मारत सजनिया पे पिचकारी,
चढ़ जात है,
भंग की सी खुमारी।
गुलाल
थोड़ा हरा रंग उड़ाएंगे,
थोड़ा डालेंगे रंग लाल,
बाजार में अबके आया है,
प्यार भरा गुलाल,
मुट्ठीभर पीला फेकेंगे,
ले आएंगे गुलाबी रंग भी उधार,
बाजार में अबके आया है,
प्यार भरा गुलाल,
आंगन रंग-बिरंगा कर देंगे,
बैंगनिया रंग से चौखट भर देंगे,
दरोदीवार नीले से करेंगे सराबोर,
केसरिया छिटकाएंगे चंहुओर,
गली कर देंगे गहरे लाल से निहाल,
बरसते मनभावन रंगों से फिजा को ना होगा मलाल,
बाजार में अबके आया है,
प्यार भरा गुलाल। 
Holi aati yaad dilati
Pichli kitni Holi
Vo bachpen vali Holi
Vo gubbaro ki Holi
Vo sakhiyo wali Holi
Vo gujiyo wali Holi
Vo thumko wali holi
Holi aati yaad….
Har Holi albeli hoti
Holi aati hume batati
jane kitne raj dikhati
Holi aati rang lagati
Holi aati gale lagati
Aakar sab ko nahelaati
Tun mun ka vo mail hatati
Holi aati yaad dilati
Pichli kitni Holi
Holi aati yaad dilati
Rango se tann mann sahlati
Bheege bheege geet sunati
Pichkaari se rang barsaati
Holi aati yaad dilati
Bhabhi, saali se rang dalwaati..
Holi aati yaad dilati
Pichli kitni Holi!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *