Category Archives: hindi kavita

short hindi poems on bachpan

short hindi poems on bachpan

Barish ke cham-2 bundo se,
kuch hos me mai ab aaya hu,
Bit gaye ab din bachpan ke,
ye saugat he kyo mai paya hu,
Wo din kitne rangile the,
jb sapne na koi sajile the,
Dunia me kitni raunak the,
kapde jb sbke gile the,
Ye kyo madhosh jawani aai hai,
Beran tarange lai hai,
Gujar jati hai barsat bhe ab yu he,
ek bar na khusia lai hai,To,
Bachpan ke wo din achhe the,
jb mauj me hum sb bachhe the.

corruption sms


फिर तू किस चक्कर में है
भाई यहाँ सब चलता है
यहाँ जुगाड़ बहुत सही लफ्ज है
हर कोई जुगाड़ से चल रहा है
रेल में सीट नहीं है, जुगाड़ है
सीट मिल जायेगी
नंबर कम आये जुगाड़ है
डिविजन बन ही जायेगी
शादी की तारीख नहीं है
पंडित जी जुगाड़ कर देंगे
तारीख निकल आएगी
सत्ता पर काबिज होना है
जुगाड़ लड़ाओ बिना बहुमत के
सरकार बन जायेगी