good thoughts in hindi

July 29, 2012 Admin 0
नमस्कार करना व्यक्ति को दूसरों के प्रति आभार और कृतज्ञता व्यक्त करने का अवसर प्रदान करता है ।

-मैथलीशरण गुप्त !|! good thoughts in hindi !|!<
एक सफल व्यक्ति बनने की कोशिश मत करो,
 बल्कि मूल्यों पर चलने वाला व्यक्ति बनो।

अल्बर्ट आइंस्टीन
 सुविचार

"अज्ञानी के लिए किताबें और अंधे के लिए दर्पण एक सामान उपयोगी है ."

- चाणक्य सूक्ति वाक्य  !|! good thoughts in hindi !|!
"ऐसे व्यक्ति जो आपके स्तर से ऊपर या नीचे के हैं उन्हें दोस्त न बनाओ,वह तुम्हारे कष्ट का कारण बनेगे. सामान स्तर के मित्र ही सुखदाई होते हैं ."

चाणक्य सूक्ति वाक्य  
 "कोई भी काम शुरू करने के पहले तीन सवाल अपने आपसे पूछो ---मैं ऐसा क्यों करने जा रहा हूँ ? इसका क्या परिणाम होगा ? क्या मैं सफल रहूँगा ?"

चाणक्य सूक्ति वाक्य 
व्यक्तिको जरूरत से ज्यादा सरल व ईमानदार नहीं होना चाहिए। सीधे तने के पेड़ सबसे पहले काटे जाते हैं।

 - चाणक्य
मनुष्य अनुचित और भ्रष्ट कर्म कर हर क्षण स्वयं को धोखा देता है, क्योंकि वर्तमान कर्म ही उसके भविष्य के प्रारब्ध का आधार है।

-नीतिसार
यदि शक्ति का तात्पर्य नैतिक दृढ़ता से है तो स्त्री पुरुषों से अधिक श्रेष्ठ है।

- महात्मा गांधी
अत्यधिक परिचय से अवज्ञा उत्पन्न होती है और किसी के पास लगातार जाने से निरादर होता है।

-शार्गधर
हम अपने विगत काल के बारे में सोच-सोचकर ही अपना भविष्य बिगाड़ बैठते हैं।
मनुष्य सुबह से शाम तक काम करके उतना नहीं थकता;
जितना क्रोध और चिंता से एक क्षण में थक जाता है।
समय, सत्ता, संपत्ति और शरीर;
सदा साथ नहीं देते।
परन्तु
स्वभाव, समझदारी, सत्संग और सच्चे संबंध;
सदा साथ देते हैं।
आया न कुछ, न जायेगा साथ;
फिर क्यों रहता है, तु उदास;
कर्मो की है ये माया, कर्म करो यार;
अच्छा कर्म करके, खुदा से करो प्यार।
स्वार्थ में अच्छाईयाँ ऐसे खो जाती है जैसे समुंदर में नदियाँ।
एक बेहतरीन इंसान अपनी जुबान से ही पहचान जाता है;
वर्ना अच्छी बातें तो दीवारों पर भी लिखी होती हैं।
जिस्म तो बहुत संवार चुके, रूह का सिंगार कीजिये;
फूल शाख से न तोड़िए, खुशबुओं से प्यार कीजिये!
शीशा और रिश्ता वैसे दोनों नाजुक होते हैं;
बस फर्क तो इतना है कि शीशा गलती से टूट जाता है;
और रिश्ता गलतफैमियों से! 
विज्ञान कहता है के जीभ पर लगी चोट जल्दी ठीक होती है;
और ज्ञान कहता है के जीभ से लगी चोट कभी ठीक नहीं होती है! 
काम करो ऐसा कि पहचान बन जाये;
हर कदम चलो ऐसे कि निशान बन जायें;
यह जिंदगी तो सब काट लेते हैं;
जिंदगी ऐसे जियो कि मिसाल बन जाये! 
अहंकार में तीन गए;
धन, वैभव और वंश!
ना मानो तो देख लो;
रावन, कौरव और कंस!
'इंसान' एक दुकान है, और 'जुबान' उसका ताला;
जब ताला खुलता है, तभी मालुम पड़ता है;
कि दूकान 'सोने' कि है, या 'कोयले' की!
स्वास्थ्य सबसे बड़ी दौलत है! संतोष सबसे बड़ा खजाना है! आत्म -विश्वास सबसे बड़ा मित्र है!
अंधकार से कभी अंधकार को मिटाया नहीं जा सकता;
सिर्फ प्रकाश ही ऐसा कर सकता है!
इसी प्रकार नफरत से नफरत को नहीं मिटाया जा सकता;
सिर्फ प्यार से ऐसा ऐसा किया जा सकता है!
बुराई इसलिए नहीं पनपती की बुरा करने वाले लोग बढ़ गये हैं;
बल्कि इसलिए बढ़ती है, कि सहन करने वाले लोग बढ़ गये हैं! 
संघर्स में आदमी अकेला होता है;
सफलता में दुनियां उसके साथ होती है;
जब-जब जग उस पर हँसा है;
तब-तब उसी ने इतिहास रचा है! 
जब आप जीवन में सफल होते हैं;
तब आप के दोस्तों को पता चलता है, कि आप कौन हैं!
जब आप जीवन में असफल होते हैं;
तब आपको पता चलता है, कि आप के दोस्त कौन हैं! 
किसी को अपनाने के लिए हज़ार खूबियाँ कम है;
लेकिन छोड़ने के लिए एक कमी ही काफी है! 
जिंदगी में दो लोगों का ख्याल रखना बहुत जरुरी है!
पिता: जिसने तुम्हारी जीत के लिए सब कुछ हारा हो!
माँ: जिसको तुमने हर दुःख में पुकारा हो! 
फूलों की महक केवल वायु की दिशा मे फैलती है! लेकिन एक अच्छे व्यक्ति की अच्छाई, हरेक दिशा मे फैलती है!
बुरे दिनों का एक अच्छा फायदा है;
.
..
...
अच्छे - अच्छे दोस्त परखे जातें हैं!
कागज अपनी किस्मत से उड़ता है;
लेकिन पतंग अपनी काबिलियत से!
इसलिए किस्मत साथ दे या न दे;
काबिलियत जरुर साथ देती है!
दो अक्षर का होता है लक;
ढाई अक्षर का होता है भाग्य;
तीन अक्षर का होता है नसीब;
साढ़े तीन अक्षर की होती है किस्मत;
पर ये चारों के चारों चार अक्षर, मेहनत से छोटे होते हैं! 
जीवन में दो ही व्यक्ति असफल होते हैं!
एक वे जो सोचते हैं पर करते नही;
दूसरे वे जो करते हैं पर सोचते नहीं!
रात नहीं ख़्वाब बदलता है;
मंजिल नहीं कारवां बदलता है!
जज्बा रखें हरदम जीतने का;
क्योंकि किस्मत चाहे बदले न बदले, वक़्त जरुर बदलता है!
जीवन का सबसे बड़ा अपराध - किसी की आँख में आंसू आपकी वजह से होना।
और
जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि - किसी की आँख में आंसू आपके लिए होना।

aaj ke vichar in hindi

July 29, 2012 Admin 1
व्यर्थ बोलने की अपेक्षा मौन रहना अच्छा है।

- स्वामी विवेकानंद
मूर्खों का समयव्यसन,नींद
तथा लड़ाई-झगड़े में व्यतीत
होता है, जबकि विद्वानों का
समयसकारात्मक चिंतन और
श्रेष्ठ कार्यों में व्यतीत होता है।

-नारायण पंडित
इतने खुश रहें कि जब
दुसरे आपको देखें, तो वे भी
खुश हो जाएं।   !|!|! aaj ke vichar !|!|!
जिसे समाज उचित मानकर चले,
जिसमें सबको अधिकार और सुविधएं प्राप्त हों,
जिसमें भेदभाव न हो, वही न्याय है।

-मेरियम 
क्रूरता का उत्तर क्रूरता से देने का अर्थ अपने नैतिक व बौद्धिक पतन को स्वीकार करना है।
                                                                                                        -महात्मा गांधी
कायर मनुष्य कभी भी सदाचारी और नीतिवान नहीं हो सकता है।

-महात्मा गांधी!|!|! aaj ke vichar in hindi !|!|!
जिस समाज का एकमात्र लक्ष्य न्याय होगा, वही समाज आदर्श समाज कहलाएगा

- डॉ राधाकृष्णन
प्रेम की दीक्षा बिना जीवन नीरस उत्साहीन, निराशा
तथा नकारात्मक विचारों से घिरा रहता है।

-प्रेमचंद !|!|! aaj ke vichar !|!|!
स्त्री की उन्नति या अवनति पर ही राष्ट्र की उन्नति या अवनति निर्भर करती है।

-अरस्तू 
जिस किसी से भी जितना भी ज्ञान मिले,
उसे प्राप्त कर लेना चाहिए और बदले में
कृतज्ञता प्रकट करनी चाहिए।

-चाणक्य
आत्मरक्षा हेतु मारने की शक्ति से बढ़कर मरने की हिम्मत होनी चाहिए।

-महात्मा गांधी